Bihar Hari Khad Yojana 2024 : मुंग और ढेंचा की खेती पर मिल रहा 90% तक सब्सिडी, यहां देखें पूरी जानकारी

Bihar Hari Khad Yojana 2024: बिहार सरकार द्वारा चलाई जा रही बिहार हरी खाद योजना के तहत किसानों को मूंग और ढैंचा की खेती के लिए बीज अनुदान प्रदान किया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत, किसानों को मूंग और ढैंचा की खेती के लिए 90% तक के बीज अनुदान मिलेगा। ये जैविक फसलें हैं जिनसे भूमि को पोषण मिलता है और उसकी उपजाऊ शक्ति में वृद्धि होती है। इससे किसानों की आय में भी वृद्धि होगी।

इस योजना का उद्देश्य किसानों को जैविक फसलों की खेती के लिए प्रोत्साहित करना है। इसके तहत किसान अपनी आय में वृद्धि कर सकते हैं। यह योजना किसानों को ऑनलाइन आवेदन करने का मौका देती है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया अधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है। यहाँ पर आपको योजना का उद्देश्य, लाभ, योग्यता, आवश्यक दस्तावेज और आवेदन करने की स्टेप-बाय-स्टेप प्रक्रिया से संबंधित सभी जानकारी मिलेगी।

Bihar Hari Khad Yojana 2024
Bihar Hari Khad Yojana 2024

Bihar Hari Khad Yojana 2024

बिहार राज्य सरकार ने बिहार खरे खाली योजना की शुरुआत की है, जिसका उद्देश्य किसानों की आय में वृद्धि करना है। इस योजना के तहत, मूंग और ढैंचा की खेती करने वाले किसानों को सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जा रही है। इसके अंतर्गत, मूंग की खेती पर 80% और ढैंचा की खेती पर 90% तक का अनुदान प्रदान किया जाएगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए, राज्य के किसानों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इस योजना के अंतर्गत, जैविक किस्म की फसलों की खेती को प्रोत्साहित किया जा रहा है। इससे भूमि का उपजाऊपन बढ़ाने के साथ-साथ, किसानों की आय में भी वृद्धि होगी। राज्य सरकार का लक्ष्य है कि गर्मी के मौसम में 28000 हेक्टेयर तक ढैंचा की खेती को बढ़ावा देना। किसान इस योजना के तहत अधिकतम 20 किलोग्राम बीज प्रति हेक्टेयर के हिसाब से प्राप्त कर सकते हैं।

आवेदन की प्रक्रिया के लिए, किसानों को 12 मई 2024 तक आवेदन करना होगा और बीज वितरण 22 मई 2024 के बाद होगा। इसलिए, जो किसान इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, उन्हें जल्दी आवेदन करना चाहिए।

 

बिहार हरी खाद योजना का उद्देश्य –

मै आपको बता दु कि जैविक किस्म की फसले भूमि के लिए अच्छि खाद का कार्य करती है जिससे आपकि भूमि का उपजाऊ पन तो बढ़ता ही है साथ ही आपके फसल उत्पादन में भी बहुत वृद्धि होती है। खेतो मे अधिक फसल उत्पादन होने से किसानों की आय में भी वृद्धि होना तय है। इसलिए सरकार बिहार हरी खाद योजना को लेकर आई है जिससे मूंग और ढैचा जैसे फसलों मे उत्पादन को बढ़ावा मिलेगा।

 

बिहार हरी खाद योजना के लाभ तथा विशेषताएं –

इस योजना के अंतर्गत निम्न लाभ तथा विशेषताएं है –

  • हरी खाद योजना बिहार के अंतर्गत किसानों को मूंग की खेती के लिए 80% और ढैचा की खेती के लिए 90% बीज सब्सिडी मिलती है।
  • पौधो की कटाई करके हरी खाद का प्रबंध कर सकते हैं।
  • योजना के तहत किसानों को बीज की होम डिलीवरी की सुविधा भी प्राप्त हो सकती है जिसके लिए उन्हें कुछ शुल्क का भुगतान करना होगा।

 

बिहार हरी खाद योजना कि पात्रता –

राज्य के किसान जो निम्नलिखित पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं, उन्हें हरी खाद योजना के तहत लाभान्वित किया जाएगा –

  • बिहार राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • कृषि योग्य भूमि होनी चाहिए।

इन पात्रता मानदंडों को पूरा करने वाले किसान इस योजना के लाभार्थी हो सकते हैं।

 

बिहार हरी खाद योजना के लिए लगने वाले दस्तावेज –

यदि आप बिहार हरि खाद योजना के तहत आवेदन करने के इच्छुक है तो निम्नलिखित दस्तावेजों की पूर्ति करनी होगी –

  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • किसान रजिस्ट्रेशन नंबर
  • मोबाइल नंबर आदि।

 

बिहार हरी खाद योजना में आवेदन कैसे करें? –

हरी खाद योजना बिहार के तहत आवेदन करने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स का अनुसरण करना होगा –

  • सबसे पहले उम्मीदवार किसान को योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, जिसका लिंक https://brbn.bihar.gov.in/ है।
  • वेबसाइट मे “Application” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अगले पेज पर, अपना रजिस्ट्रेशन नंबर दर्ज करें और “सर्च” बटन पर क्लिक करें।
  • एक नया पेज ओपन होगा जिसमें योजना की सभी जानकारी और “अप्लाई” ऑप्शन होगा, इस पर क्लिक करें।
  • अब एक आवेदन फॉर्म खुलेगा, जिसमें सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करें।
  • सभी दस्तावेजों को upload करें।
  • सभी जानकारी की जांच करें और “सबमिट” बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद, आपको एक रसीद मिलेगी जिसे प्रिंट करें।

यहां दी गई स्टेप्स का पालन करने के बाद, आपका आवेदन पूरा हो जाएगा और आपको योजना के लाभ मिल सकते हैं।

 

FAQs : Bihar Hari khad Yojana –

Q.1 बिहार हरी खाद योजना क्या है?

Ans. बिहार हरी खाद योजना एक सरकारी योजना है जिसका उद्देश्य किसानों को मूंग और ढैंचा जैसी जैविक फसलों की खेती के लिए बीज अनुदान प्रदान करना है। इसके माध्यम से भूमि को उपजाऊ बनाने और किसानों की आय में वृद्धि करने का प्रयास किया जा रहा है।

Q.2 किसानों को इस योजना के तहत कितनी सब्सिडी मिलेगी?

Ans. बिहार हरी खाद योजना के अंतर्गत, किसानों को मूंग और ढैंचा की खेती के लिए 90% तक के बीज अनुदान प्रदान किया जाएगा।

Q.3 योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

Ans. योजना के लिए आवेदन करने के लिए किसानों को बिहार सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा और वहां पर ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया का पालन करना होगा।

Q.4 आवेदन की अंतिम तिथि क्या है?

Ans. बिहार हरी खाद योजना के तहत आवेदन की अंतिम तिथि 12 मई 2024 है।

Q.5 कितने बीज प्रति हेक्टेयर तक का अनुदान प्रदान किया जाएगा?

Ans. योजना के तहत किसान अधिकतम 20 किलोग्राम बीज प्रति हेक्टेयर के हिसाब से अनुदान प्राप्त कर सकते हैं।

निष्कर्ष –

बिहार हरी खाद योजना बिहार के किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण योजना है जो उन्हें गुणवत्ता से सुधारित खाद के उपयोग के लाभ से जोड़ती है। यह योजना उन्हें आधुनिक खेती तकनीकों के लाभों से अवगत कराती है और उनके उत्पादन को बढ़ावा देने में मदद करती है। और दोस्तों उमिद है आप संपूर्ण जानकारी को पढ़ने के बाद इस योजना का महत्व समझ चुके होंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top